सीतामढी :- हिंद्रीस एनजीओ ने बढ़ाया मदद का हाथ,इस कोरोना महामारी से बचने और अधिकतम सुरक्षा के लिए सीतामढ़ी में एक वॉर रूम स्थापित किये है,

सीतामढी :- हिंद्रीस एनजीओ ने बढ़ाया  मदद का हाथ,इस कोरोना महामारी से बचने और अधिकतम सुरक्षा के लिए सीतामढ़ी में एक वॉर रूम स्थापित किये है,

-- हेल्प लाइन नंबर +91-7303409010

-- सकारात्मकता कभी नहीं मरती है, सकारात्मक रहें और हार न मानें - नरेंद्र कुमार

सागर कुमार ,,सीतामढी,,

सीतामढी :- देश में इस कोरोना संक्रमण काल में लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। किसी का रोजगार छिन गया है, तो कोई अपनी जिंदगी चलाने के लिए अपने रोजगार के तरीके को बदल रहे हैं। वहीं कई गरीब बेबस और लाचार हैं। उन्हें दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो पा रही है। लेकिन इन सबके बीच कुछ समाजसेवी ऐसे भी हैं जो निशुल्क लोगों की मदद कर रहे हैं। हिंद्रिस एनजीओ के संस्थापक नरेंद्र कुमार ( जो पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट है ) ने कोरोना राहत योजना के बारे में बात की, और कोविड रोगियों की सहायता के लिए, 24x7 स्वास्थ्य सहायता केंद्र की स्थापना किये है। पचास से अधिक वालंटियर्स के साथ डूमरा से संचालित इस स्वास्थ्य सहायता केंद्र के बारे में नरेंद्र कुमार ने बताया कि कैसे कोरोना से लड़ने के लिए हमने अपने डूमरा के निवास को पूर्ण रूप से इसे वॉर रूम में बदल दिया है। एनजीओ के संस्थापक श्री कुमार ने बताया कि हम समाज के सबसे निचले तबके को लाभ पहुंचाने और इस महामारी से लड़ने में मदद करने के लिए अगले 30 दिनों में 60 से 80 लाख की राशि खर्च करने की योजना बना रहे हैं ! वॉर रूम ऑपरेशन के केवल 2 दिनों में, हमने 500 से अधिक लोगों को बुलाया और उनका अनुरोध एकत्र किया। हमारा लक्ष्य ट्रैक करना, इलाज करना और ठीक करना है।

एनजीओ के संस्थापक ने बताया कि वह अपने पूरे जीवनकाल में अर्जित बचत का उपयोग कर रहे हैं। और इसे कोरोना रोगों से लड़ने के लिए समुदाय के लिए इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। गरीब लोगों के लिए, हम 14 दिनों के लिए मुफ्त दवा की खुराक प्रदान कर रहे हैं। हम समाज के अंतिम कड़ी को समर्थन करने का प्रयास कर रहे हैं। जबकि कोविड19 के दौरान हमने सीतामढ़ी में युद्ध कक्ष स्थापित करने का निर्णय लिया है। युद्ध कक्ष से, हमारा ध्यान प्रत्येक कोविड संदिग्ध मामले से संपर्क करने और उन्हें जितना संभव हो उतना संभव मदद करने में होगा।

एनजीओ पिछले तीन सालों से यूपी में काम कर रहा है। 2020 से कोविड के खिलाफ लड़ाई के लिए समर्पित और हजारों लोगों की जान बचाई। इसके अलावा, उन्होंने सरकार और पुलिस स्टेशन में 50,00 सैनिटाइज़र की स्थापना करने के लिए फ्रंट लाइन के कार्यकर्ताओं की सुरक्षा के लिए 500,000+ N95 मस्ट, वितरित करने के लिए जोड़ा। इस महामारी के खिलाफ प्रभावी ढंग से लड़ने के लिए कोरोना वॉरियर्स को सुरक्षित रखना महत्वपूर्ण है। सहायता सामग्रियों दवा, मास्क, सेनेटाइजर मसीन, PPE किट, इंजेक्शन,फेस शिल्ड आदि को सरकारी अस्पतालो को और भी उपलब्ध कराई जाएगी। 

हमारे समाज के हर सक्षम नागरिक को जरूरतमंदों और सरकार का समर्थन करने के लिए आगे आना चाहिए। सरकार की आलोचना करना, कोविड -19 के खिलाफ लड़ने के लिए नकारात्मक दृष्टिकोण है। आगे आओ और मिलकर काम करना ही इस महामारी से लड़ने का एक बेहतर तरीका हो सकता है। हमें आम जनता तक पहुचने के लिए जनप्रतिनिधियों का समर्थन चाहिये जो अपने क्षेत्र में संदिग्ध कोरोना मरीज़ों के बारे में बतलाये और उनकी मदद के लिये आगे आय। हम अपनी और से उन लोगों का यथासंभव मदद करने का प्रयास करेंगे। हमारे वॉर रूम से सीतामढ़ी के सभी जनप्रतिनिधियों जिनमें जिला परिषद सदस्यों, मुखिया, पंचायत समितियों, वार्ड सदस्य, सरपंच, पंच, के साथ साथ सांसद, तथा विधायकों से भी अपील है कि सभी मिलकर इस आपदा से लड़ने में कदम से कदम बढ़ाकर आगे आये। और अपने सीतामढ़ी को इस कोरोना महामारी से लड़ कर इस पर विजय प्राप्त करें। " आपसी सहयोग से हम निश्चित ही इस महामारी पर विजय प्राप्त करेंगे।