G-7 में भारत को शामिल करने का प्रस्ताव भारत के लिए बड़ी उपलब्धि - गुंजन

G-7 में भारत को शामिल करने का प्रस्ताव भारत के लिए बड़ी उपलब्धि  - गुंजन

समस्तीपुर । विभूतिपुर प्रखंड के नरहन निवासी पूर्व भाजपा युवा जिला अध्यक्ष, युवाओं के प्रदेश नेता सह युवाओं के दिलों में राज्य करने वाले  गुंजन मिश्रा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड भारत को G-7 समूह में शामिल होने का प्रस्ताव भारत के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। किसी भी विकासशील देश के लिए विकसित देशों के समूह में शामिल होकर कार्य करने से देश की आर्थिक,व्यवसायिक,राजनीतिक, कूटनीतिक और वैश्विक दबदबा बढ़ता है।


यह भी पढ़े : तुरकौलिया पुलिस ने चलाया वाहन जांच अभियान, 23 वाहनों से 16500 रुपए के चालान काटे।

  G-7 में भारत को अगर शामिल किया जाता है तो भारत जिस तरह से कोरोना काल मे पूरी दुनिया के लिए रोल मॉडल बनकर उभड़ा है। उससे भारत की खोई हुई। विरासत पुनः वापस होगी और भारत पुनः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्त्व में विश्वगुरु बनने के मार्ग में और तेजी से आगे बढ़ेगा। शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति ने G-7 के समूह को पुराना बताते हुए शनिवार को समूह को विस्तार करने का प्रस्ताव रखा।

जिसमे सबसे ऊपर भारत का ही नाम लिया गया। आगे गुंजन मिश्रा ने कहा कि ये देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता और नेतृत्त्व क्षमता का असर है जो सात सदस्य वाले G-7 समूह में अमेरिका, कनाडा, इटली, फ्रांस, जर्मनी, जपान और UK के बाद अब भारत को शामिल करने का प्रस्ताव दुनिया की सबसे ताकतवर देश अमेरिका के राष्ट्रपति ने किया है। वही इस समूह में एशिया महादेश से दक्षिण कोरिया के साथ आस्ट्रेलिया एवं रूस को भी शामिल करने की बात कही।


यह भी पढ़े : सुगौली में मिले 8 कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप।