सीतामढी :- रायपुर मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस पर पथराव करने वाले की खोज शुरू, चार महिला समेत सात पुरुष गिरफ्तार,जेल

सीतामढी :- रायपुर मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस पर पथराव करने वाले की खोज शुरू, चार महिला समेत सात पुरुष गिरफ्तार,जेल

सागर कुमार ,सीतामढी ब्यूरो,,

सीतामढ़ी :- नानपुर थाना क्षेत्र के रायपुर गावं में बीते दिन शुक्रवार को गाजे-बाजे के साथ जुलूस की शक्ल में प्रतिमा विसर्जन को पुलिस द्वारा रोकने के दौरान पब्लिक उग्र होकर जिला प्रशासन की टीम से जा उलझे। देखते ही देखते पब्लिक और पुलिस के बीच जबरदस्त भिड़न्त हो गया। जिसमे महिला पुलिस सहित आधा दर्जन पुलिस कर्मी बुरी तरह घायल हो गए। इधर प्रतिमा विसर्जन देखने आए कई ग्रामीण भी चोटिल हुए।

ग्रामीणों की उग्रता इस तरह बढ़ी की लोगो ने इस दौरान पुलिस के ऊपर जमकर रोरे और ईट बरसाए। पुलिस ने हालात को काबू करने और अपने बचाव में दो राउंड हवाई फायरिंग किया। तब जाकर भीड़ तीतर बितर हुवा। जख्मी पुलिस कर्मी को इलाज के लिए नानपुर पीएचसी पहुंचाये। घायलों में एसआई विजय कुमार राम, संतोष सिंह, महिला कांस्टेबल रेणु कुमारी, वेरेन्द्र कुमार राम, कमलेश सिंह, चंद्रधन यादव, चौकीदार राजेश कुमार यादव शामिल हैं।

घटना के बाद इलाके में काफी तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई थी। जिसके बाद वर्रिये पदाधिकारी को इसकी सूचना दी गई घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे एएसपी सह एसडीपीओ प्रमोद कुमार, एसडीएम नवीन कुमार, थाना अध्यक्ष राम विनय पासवान, बीडीओ चंद्र मोहन पासवान और सीओ आलोक कुमार ने अतिरिक्त पुलिस बल को घटनास्थल पर बुलाया तब जाकर उग्र भीड़ पर काबू पाया गया।

आपको बतादें के रायपुर गांव स्थित गंगा सागर पोखर पर पुजा पंडाल स्थित प्रतिमा का विसर्जन किया जा रहा था। रूट बदलने को लेकर पुलिस से लोगों की बकझक हो गया। जिसमें उग्र लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। वहीं पुलिस ने भीड़ को तीतर-बीतर करने के लिए दो राउंड हवाई फायरिंग किया। गोली चलने की आवाज सुन लोग भाग निकला। वहीं बचे प्रतिमा को पुलिस ने विसर्जन किया। इस मामले में कुल 27 लोगों को नामजद किया गया हैं।

तथा 150 अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। पुलिस ने छापेमारी कर घटना में शामिल पप्पू कुमार पिता सिंघासन राउत, राजा कुमार पिता सहदेव साह, बुधन सहनी पिता योगी साहनी, बिनोद कुमार पिता योगेंद्र साह, अनिता सहनी पति बुधन सहनी, जगरनाथ राउत पिता स्व रितलाल राउत, सुरेंद्र कुमार पिता स्व जीवछ दास, चंदन कुमार पिता नरेश मंडल, रागनी देवी पति वीरन सहनी, मधु देवी पति राजगीर सहनी, गौरी देवी पति संजय सहनी सहित चार महिला व सात पुरूष सहित कुल 11 लोगों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया हैं।

इस दौरान विभिन्न देवी-देवताओं की दो प्रतिमाओं का विसर्जन कर दिया गया था। तभी कुछ शरारती तत्व के लोगों ने आकर पुलिस कर्मी के साथ बकझक करने लगा। तथा डीजे मंगवा कर कहने लगा की हमलोग मूर्ति को पुरे गांव में घुमाएगे तब मूर्ति का विसर्जन होगा। पुलिस के द्वारा समझाने पर लोग उग्र होकर पुलिस पर हमला कर दिया तथा लोग ईट पथ्थर से पुलिस पर हमला कर दिया।

वहीं पुलिस ने डीजे को जब्त कर लिया। घटना के बाद रायपुर गांव में पुलिस छावनी में तब्दील हो गया हैं। डीएसपी प्रमोद कुमार यादव व एसडीओ नवीन कुमार के नेतृत्व में पुलिस लगातार फ्लैग मार्च कर रहीं हैं। घटना के बाद रायपुर गांव के लोग अपने अपने घर को छोड़ भाग निकले हैं। गांव सूना पड़ गया हैं। डीएसपी प्रमोद कुमार यादव ने बताया की कुछ शरारती तत्व के लोगों ने रूट बदलना चाह रहे थे जिसको लेकर ईटा पत्थर बरसाने लगे वही ए एस पी सह एस डी पी ओ प्रमोद कुमार ने फायरिंग को लेकर साफ इंकार कर दिया।